से-क्स के करते समय इस तरफ से कर सकते है पार्टनर को उत्तेजित, जाने कुछ टिप्स जिसको आपने पहले कभी नहीं जाना | NewsSudur

से-क्स के करते समय इस तरफ से कर सकते है पार्टनर को उत्तेजित, जाने कुछ टिप्स जिसको आपने पहले कभी नहीं जाना

[elfsight_social_share_buttons id="1"]
13341 Views

हर दिन अगर आप एक ही तरह से से-क्स करेंगे तो जाहिर सी बात है कि आपकी लाइफ में नीरसता और बोरियत आ जाएगी। इससे बचने के लिए कुछ नया एक्सपीरियंस अपनी लाइफ में जरूर ऐड करें।अगर आपकी से-क्स लाइफ सैच्युरेशन पॉइंट पर पहुंच चुकी है तो वक्त आ गया है कि आप अपने बेडरूम में एक्सपेरिमेंट को जगह दें और चीजों को रीइन्वेंट करना शुरू करें। हम आपको बता रहे हैं कुछ आसान टिप्स जिसकी मदद से आप अपनी कामेच्छा को फिर से जागृत कर सकते हैं और साथ ही में अपने पार्टनर को भी उत्तेजना महसूस करवा सकते हैं.

हर दिन एक जैसी चीजें न करें हर दिन अगर आप एक ही तरह से से-क्स करेंगे तो जाहिर सी बात है कि आपकी लाइफ में नीरसता आ जाएगी और सबकुछ रोबॉटिक जैसा महसूस होने लगेगा। लिहाजा अपनी से-क्स लाइफ को रूटीन बनने से रोकें। क्या आपके मन में एक तरह की रेस चल रही होती है जहां आपको ऑर्गैज्म हासिल करने की जल्दबाजी होती है? अगर हां तो हर दिन की इस साइकल में थोड़ा परिवर्तन करें और कुछ नया करने की कोशिश करें। अगर आप हमेशा रात के वक्त अंधेरे में से-क्स करते हैं तो इस बार सुबह या दोपहर के वक्त ट्राई करें। अगर हर बार आपका पार्टनर ही ऑन टॉप होता है तो इस बार आप लीड करें और पार्टनर को सरप्राइज कर दें।

से-क्स के लिए स्पेशल टाइम इसमें कोई शक नहीं कि स्पॉन्टेनियस से-क्स यानी सहज और स्वाभाविक रूप से सेक्शुअल ऐक्ट में शामिल होना हमेशा ही अच्छा रहता है लेकिन कई बार हम अपने बिजी शेड्यूल, जॉब की डिमांड, परिवार की जिम्मेदारी और घर के बाकी कामों के बीच से-क्स के लिए अलग से समय निकालना भूल जाते हैं। लिहाजा इस बार अपने सेक्शुअल ऐक्ट के लिए पहले से प्लानिंग करें। कोई स्पेशल जगह डिसाइड करें, पार्टनर को इस बारे में हिंट देते रहें और मूड बनाकर से-क्स करें।

से-क्स के दौरान बढ़ती है उत्तेजना बेडरूम में बंद दरवाजे के पीछे क्या होता है? कोई कपल से-क्स की पहल कैसे करता है? या फिर से-क्स के दौरान दो लोगों के बीच क्या बातें होती हैं? इन सबके बारे में जानना आसान नहीं है। हालांकि एक स्टडी की गई जिसमें लोगों से बात करके यह जानने की कोशिश की गई कि आखिर वे कौन सी आवाजें जो से-क्स के दौरान उनकी उत्तेजना बढ़ाती हैं और इस स्टडी के नतीजे हैरान करने वाले हैं.

कैसे हुई स्टडी? ऑनलाइन डेटिंग एजेंसी सॉसी डेट्स ने 5 हजार 24 यूजर्स के बीच एक सर्वे किया और उनसे यह जानने की कोशिश की आखिर से-क्स के दौरान वे क्या सुनना पसंद करते हैं। डेटिंग एजेंसी ने डीटेल स्टडी की और लोगों से पूछा कि आखिर वे कौन से शब्द या आवाज है जिसका लवमेकिंग के दौरान इस्तेमाल करने से किसी कपल की से-क्स लाइफ और ज्यादा एक्साइटिंग बन सकती है।

लिस्ट में टॉप पर है कराहना (moaning) सर्वे में शामिल 90 प्रतिशत से ज्यादा पुरुषों ने कहा कि मोनिंग यानी कराहने की आवाज से उनकी उत्तेजना बढ़ जाती है। वहीं दूसरी तरफ 77 प्रतिशत महिलाओं का कहना था कि अगर उनका मेल पार्टनर मोनिंग की आवाज निकाले तो उन्हें अच्छा लगता है और उनकी उत्तेजना भी बढ़ जाती है।

दूसरे नंबर पर डर्टी टॉक सर्वे में शामिल 76 प्रतिशत पुरुष और 73 प्रतिशत महिलाओं ने स्वीकार किया कि लवमेकिंग के दौरान अगर उनका पार्टनर डर्टी टॉक करे तो उन्हें अच्छा लगता है और उनकी उत्तेजना बढ़ जाती है। हालांकि डर्टी टॉक आसान नहीं है क्योंकि सेक्शुअल फ्रेजेज के मामले में एक्सपर्ट बनना थोड़ा मुश्किल है।

तीसरे नंबर पर गहरी सांस की आवाज इस सर्वे के मुताबिक हेवी ब्रीदिंग यानी गहरी सांस लेना एक्साइटमेंट का संकेत देता है और गहरी सांस लेने की आवाज से 60 प्रतिशत पुरुषों को और 45 प्रतिशत महिलाओं को से-क्स के दौरान उत्तेजना महसूस होती है।

महिलाओं को पसंद है खामोशी ऊपर बताई गई आवाजों के अलावा से-क्स के दौरान लोगों को जिन चीजों से उत्तेजना महसूस होती है वह है चिल्लाना, गाली-गलौज करना और खामोशी। आपको जानकर हैरानी होगी कि पुरुषों की तुलना महिलाओं को खामोशी ज्यादा पसंद है।

इस आवाज से खत्म हो जाता है उत्साह सर्वे में शामिल प्रतिभागियों से यह भी पूछा गया था कि आखिर वह कौन सी आवाज है जो से-क्स के दौरान अगर निकाली जाए तो से-क्स का पूरा मजा और उत्साह खत्म हो जाता है। इस पर ज्यादातर प्रतिभागियों का कहना था कि अपने पार्टनर के मुंह से गलत नाम सुनना या फिर अपनी जगह किसी और का नाम सुनना उनके लिए लवमेकिंग के कीमती पलों को पूरी तरह से बर्बाद कर देता है।

पार्टनर क्या देखना चाहता है से-क्स के दौरान कपड़े उतारना और फिर ऐक्ट के बाद अंधेरे में ही तुरंत पहन लेना…इसमें उतना फन नहीं है। अगर आप पार्टनर की उत्तेजना को बढ़ाना चाहती हैं तो जब घर में कोई न हो और किसी के आने की संभावना भी न हो तब पार्टनर के सामने अचानक बिना बताएं नेकेड हो जाएं। अगर नेकेड होने में आपको संकोच महसूस हो रहा हो तो आप सेक्सी लॉन्जरी पहनकर भी पार्टनर के सामने जा सकती हैं। फिर देखिए पार्टनर की उत्तेजना और कामेच्छा दोनों कैसे बढ़ जाएगी।पुराने दिनों की याद करें ताजा

आपको अपने पुराने दिन तो जरूर याद होंगे जब आप दोनों एक दूसरे के शरीर के अपने हाथ तक नहीं हटा पाते थे। इस बार पार्टनर की उत्तेजना फिर से विकसित करने के लिए आप चाहें तो पुराने दिनों की याद को फिर से ताजा कर सकती हैं। आप चाहें तो पार्टनर के लिए एक अच्छा सा रोमांटिक डिनर प्लान करें, जब आप दोनों ने पहली बार एक दूसरे को देखा था उस दिन को याद करें, अपनी पहली डेट और पहले सेक्शुअल कनेक्शन को याद करें।

बेडरूम में करें बदलाव बेडरूम में बोरियत को आने की जगह बिलकुल न दें। इसके लिए आप चाहें तो बेडरूम को थोड़ा इरॉटिक लुक दे सकती हैं। सेक्सी फील करने के लिए बेड पर सिल्क और सैटिन की चादरें बिछाएं, आप चाहे तो खाने में भी कामोत्तेजक चीजें बना सकती हैं, साथ में कैंडल लिट डिनर नहीं कैंडल लिट बाथ करें, पूरे कमरे को सेंटेड ऑइल और कैंडल्स से जगमगा दें। इतना सब करने के बाद आप देखेंगी कि पार्टनर की कामेच्छा और उत्तेजना दोनों बढ़ जाएगी।

इन आदतों को तुरंत बदलें हम सभी चाहते हैं कि हमारे रिश्ते में जोश, उन्माद और उत्तेजना बनी रहे और कई बार इसे हासिल करने के लिए हम काफी मेहनत भी करते हैं। लेकिन हमारी कई गलत आदतों की वजह से पार्टनर की से-क्स से जुड़ी उत्तेजना खत्म हो जाती है और नजदीकियां दूरियों में तब्दील हो जाती है। आगे की स्लाइड्स में पढ़ें, कौन सी हैं वो आदतें.

खर्राटे लेना अगर आप अपने बिस्तर पर अकेले सो रहे हों तो आप जो मन चाहें कर सकते हैं लेकिन जब आप पार्टनर के साथ बेड शेयर कर रहे हैं तो आपको कई चीजों का ध्यान रखना पड़ता है। ऐसे में अगर दोनों में से किसी एक पार्टनर को खर्राटे लेने की आदत हो तो जाहिर सी बात है दूसरा पार्टनर इससे परेशान होकर दूसरे कमरे में चला जाएगा और नजदीकियों के साथ-साथ पैशन भी खत्म।

पर्सनल हाइजीन  एक वयस्क होने के नाते किसी को भी यह बताने की जरूरत नहीं पड़नी चाहिए कि पर्सनल हाइजीन का ध्यान रखना कितना जरूरी है। बावजूद इसके अक्सर लोगों को ऐसे पार्टनर्स को झेलना पड़ता है जो साफ-सफाई का ध्यान नहीं रखते और जिनके शरीर से बदबू आती है। यह भी एक ऐसी आदत है जो पार्टनर की उत्तेजना को खत्म कर देता है।

जरूरत से ज्यादा काम अगर आप ऑफिस में ज्यादा देर तक काम करते हैं या ऑफिस के काम को भी घर ले आते हैं तो इससे आपके बॉस भले ही खुश हो जाएं लेकिन आपकी इस आदत का आपकी से-क्स लाइफ पर विपरित असर पड़ता है। काम से जुड़े स्ट्रेस की वजह से आपकी कामेच्छा कम हो जाती है जिससे से-क्स के प्रति दिलचस्पी घटने लगती है।

ऐल्कॉहॉल का ज्यादा सेवन पार्टनर के साथ कभी-कभार वाइन की एक बॉटल शेयर करने में कोई हर्ज नहीं है लेकिन अगर आप हर राहत कई-कई बॉटल शराब पीते हैं तो आपकी इस आदत की वजह से न सिर्फ आपका स्वास्थ्य प्रभावित होगा बल्कि से-क्स लाइफ पर भी बुरा असर पड़ेगा। ज्यादा ऐल्कॉहॉल का सेवन करने से से-क्स ड्राइव में कमी आ जाती है।

सोशल मीडिया अडिक्शन इन दिनों ज्यादातर लोग सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते हैं और इसमें कोई बुरी बात भी नहीं है। लेकिन अगर आप जरूरत से ज्यादा समय ऑनलाइन और सोशल मीडिया पर बिताते हैं, खासतौर पर तब जब पार्टनर आपके सामने हो और आप उस पर ध्यान न दें तो इससे आपके रिश्ते पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

ज्यादा तनाव लेना इन दिनों कपल्स और उनके रिलेशनशिप के बीच सबसे बड़ी बाधा बन रहा है स्ट्रेस यानी तनाव। फिर चाहे यह तनाव पर्सनल कारणों से हो या काम से जुड़े मुद्दों की वजह से। जहां तक संभव हो अपने स्ट्रेस को मैनेज करना सीखें ताकि आपका रिश्ता प्रभावित न हो।

सुबह का समय से-क्स के लिए है बेस्टसुबह का समय से-क्स के लिए है बेस्ट आप एक सप्ताह में या फिर एक महीने में कितनी बार से-क्स करते हैं? क्या आपके से-क्स करने की फ्रीक्वेंसी यानी संख्या उतनी नहीं है जितना आप चाहते हैं? अगर आप इस बात को लेकर परेशान हैं तो हो सकता है आपका से-क्स करने का तरीका नहीं बल्कि टाइमिंग गलत हो। एक बार फिर अपने से-क्स शेड्यूल पर नजर डालें और इस बात को समझने की कोशिश करें कि हो सकता है आप जिस समय को से-क्स के लिए बेस्ट मानते हों, दरअसल वह से-क्स करने का बेस्ट समय न हो।

जी हां, फ्रंटियर्स इन साइकॉलजी द्वारा करवाई गई एक स्टडी की मानें तो महिलाओं और पुरुषों के लिबिडो यानी कामेच्छा में काफी अंतर होता है। ऐसा जरूरी नहीं कि दोनों एक साथ एक ही वक्त पर से-क्स करना चाहें। महिलाओं की से-क्स ड्राइव जहां शाम के वक्त सबसे ज्यादा रहती है, वहीं पुरुष सुबह के वक्त सबसे ज्यादा सेक्शुअली ऐक्टिवेटेड फील करते हैं। रिसर्च में शामिल डेटा में भी यही बात सामने आयी है कि ज्यादातर कपल्स रात 9 बजे के बाद से लेकर सोने से पहले तक से-क्स करते हैं।

इस दिन से-क्स करना रहेगा सही ऑव्यूलेशन शुरू होने के एक या दो दिन के अंदर से-क्स करने से आप प्रेग्नेंट हो ही जाएंगी इस बात की कोई गारंटी तो नहीं है लेकिन हां प्रेग्नेंसी के चांसेज कई गुना बढ़ जरूर जाते हैं। आपकी एग्जैक्ट ऑव्यूलेशन डेट से 5 दिन पहले से लेकर ऐक्चुअल डेट तक आपकी फर्टिलिटी सबसे ज्यादा होती है। लिहाजा उन दिनों में से-क्स करने से प्रेग्नेंट होने की आशंका सबसे ज्यादा रहती है।हालांकि एक्सपर्ट्स की मानें तो सोने से पहले से-क्स करना सही नहीं है। हो सकता है कि दिन खत्म होने और सोने से पहले आपको से-क्स करना आसान और सुविधाजनक लगता हो लेकिन डॉ माइकल ब्रूअस जिन्हें स्लीप डॉक्टर भी कहा जाता है इसे सही नहीं मानते। डॉ माइकल की मानें तो रात के वक्त सोने से पहले बहुत से कपल्स से-क्स करते तो जरूर हैं लेकिन इस वक्त उन्हें बेस्ट से-क्स एक्सपीरियंस नहीं होता। इसकी वजह यह है कि दिन भर की थकान के बाद आपकी बॉडी थकी हुई होती है और आप इस वक्त से-क्स को इंजॉय नहीं कर पाते हैं।

से-क्स ड्राइव को बढ़ाना है तो इन 4 चीजों से बनाएं दूरी से-क्स लाइफ का एक अहम हिस्सा है। हालांकि कई शादीशुदा कपल्स में से-क्स ड्राइव बेहद कम हो जाती है, जिसके लिए स्ट्रेस, टेंशन और लाइफस्टाइल को जिम्मेदार माना जाता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि से-क्स ड्राइव सिर्फ इन्हीं चीजों से कम नहीं होता, बल्कि इसके लिए और भी कई फैक्टर्स जिम्मेदार हैं। एक्सपर्ट्स ने कुछ फैक्टर्स बताए हैं, आइए जानते हैं

कॉफी अगर आप कॉफी के शौकीन हैं तो ज़रा सावधान हो जाएं क्योंकि सेक्शुअल ड्राइव कम होने की एक वजह कॉफी भी है। रिलेशनशिप और से-क्स एक्सपर्स डॉ. किर्क के अनुसार, कॉफी पीने से आपकी एनर्जी तो बढ़ सकती है, लेकिन इसके सेवन से आपको से-क्स लाइफ में दिक्कत हो सकती है। दरअसल ज्यादा कॉफी पीने से अड्रीनल ग्लैन्ड ओवर फंक्शन करने लगती हैं और स्ट्रेस हॉर्मोन रिलीज़ करती हैं। यही हॉर्मोन से-क्स डिजायर को मार देता है।बर्थ कंट्रोल पिल्स व अन्य दवाईयां बर्थ कंट्रोल पिल्स और अन्य दवाईयां भी आपके से-क्स ड्राइव को कम कर देती हैं। जब भी हम बीमार होते हैं तो दवाइयों का सहारा लेते हैं, लेकिन कहीं न कहीं ये दवाईयां से-क्स ड्राइव पर बुरा असर डालती हैं।

लुक्स और फिगर की चिंता कई महिलाएं अपने लुक्स और फिगर को लेकर काफी कॉन्शल रहती हैं। अक्सर देखा भी गया है कि महिलाएं शीशे में खुद को निहारती रहती हैं और मुड़-मुड़कर अपने फिगर और अन्य फीचर्स को देखती हैं। अगर वे मन-मुताबिक न हों तो टेंशन में आ जाती हैं। एक्सपर्ट किर्क के अनुसार, ऐसी महिलाएं से-क्स के दौरान भी जज करने वाले उन्हीं ख्यालों में खोई रहती हैं और जिससे उनका ध्यान भटकता है और से-क्स ड्राइव कम होती चली जाती है।

घर का कार्पेट व फूड इंक मानो या न मानो लेकिन आपके घर में जो कार्पेट है उसका प्रभाव भी आपके सेक्शुअल ड्राइव पर पड़ रहा है। डॉ. किर्क के मुताबिक, घर के कई चीज़ों में टॉक्सिन्स की एंट्री हो जाती है। इनमें पेपर इंक से लेकर फूड में इस्तेमाल होने वाले कलर और कार्पेट का फाइबर तक शामिल है। इन में मौजूद केमिकल्स या तो सांस के ज़रिए शरीर के अंदर पहुंच जाते हैं और हॉर्मोन्स का संतुलन बिगाड़ देते हैं।

कुछ में होती है दोनों तरह की कामेच्छा बहुत से लोग ऐसे भी होते हैं जो किसी एक में नहीं बल्कि दोनों तरह की कामेच्छा की कैटिगरी में आते हैं। हालांकि वैसे लोग जिनमें responsive desire अधिक होता है, इसका मतलब है कि उनकी से-क्स ड्राइव यानी कामेच्छा लो है क्योंकि उन्हें से-क्स की जरूरत है यह महसूस करने के लिए उनके शरीर को उन्हें संकेत देना होता है। साथ ही ऐसे लोगों को उत्तेजित महसूस करने के लिए फिजिकल स्टिम्यूलेशन की जरूरत होती है।

तीखा खाना और से-क्स के बीच कनेक्शन जब बात खाने के टेस्ट की आती है तो हम सबकी पसंद अलग-अलग होती है। किसी को बहुत ज्यादा तीखा और मसालेदार खाना पसंद होता है तो कोई ऐसा भी होता है जिसकी जुबान पर अगर थोड़ी सी भी मिर्च का स्वाद आ जाए तो आंखों से पानी और कान से धुआं निकलने लग जाता है। लेकिन आज हम इस बारे में बात इसलिए कर रहे हैं क्योंकि एक नई स्टडी में इस बात का खुलासा हुआ है कि तीखा पसंद या नापसंद करने का संबंध आपकी से-क्स लाइफ से भी है। कैसे, जानने के लिए आगे पढ़ें…

क्या कहती है स्टडी? इस नई स्टडी की मानें तो अगर आप स्पाइस-लवर हैं यानी आपको खाने में तीखा और मसालेदार खाना पसंद है तो इस बात की आशंका बढ़ जाती है कि आप अपने बेडरूम में भी अपनी से-क्स लाइफ को काफी स्पाइसी और रोमांचक बनाकर रखते होंगे।

ज्यादा से-क्स करते हैं bOnePoll की तरफ से करवाए गए इस सर्वे के नतीजे इस बात की ओर इशारा करते हैं कि वैसे लोग जो तीखा खाना पसंद करते हैं वे कम तीखा खाने वालों की तुलना में ज्यादा से-क्स करते हैं। इस सर्वे में 2 हजार पार्टिसिपेंट्स को शामिल किया गया था और उनसे कई सवाल पूछे गए जिसमें उनकी लाइफस्टाइल, पर्सनैलिटी और खाने में तीखा और मसालेदार पसंद करने जैसे सवाल शामिल थे। साथ ही उन्हें 1 से 4 के बीच में स्पाइसी फूड पसंद करने को लेकर रेटिंग भी देनी थी जहां 1 का मतलब था तीखा बिलकुल पसंद नहीं और 4 का मतलब था बहुत ज्यादा तीखा पसंद करना।

सर्वे के नतीजे सर्वे के नतीजे बताते हैं कि वैसे लोग जो अपने खाने का टेस्ट बढ़ाने के लिए उसमें हॉट सॉस और चिली ऐड करते हैं वे महीने में 5.3 टाइम्स से-क्स करते हैं जबकि तीखा बिलकुल पसंद नहीं करने वाले लोग एक महीने में 3.2 बार से-क्स करते हैं। यानी साफ है कि तीखा पसंद करने वाले लोग ज्यादा से-क्स करते हैं।

अडवेंचरस भी होते हैं ज्यादा तीखा खाने का संबंध सिर्फ बेडरूम में ज्यादा ऐक्शन से नहीं है बल्कि तीखा पसंद करने वाले लोग तीखा बिलकुल नहीं खाने वालों की तुलना में ज्यादा अडवेंचरस भी होते हैं। तीखा पसंद करने वाले लोग, तीखा न खाने वालों की तुलना में ज्यादा ट्रैवल करते हैं, ज्यादा खुश रहते हैं, ज्यादा सामाजिक होते हैं और ज्यादा एक्सर्साइज भी करते हैं।

इन बातों का रखें ध्यान हो सकता है कि तीखा खाने वाले लोगों के पक्ष में यहां ज्यादा पॉजिटिव बातें कही जा रही हों लेकिन तीखा और मसालेदार खाना खाते वक्त इस बात का ध्यान जरूर रखें कि किसी भी चीज की अति बुरी होती है। अगर आप हद से ज्यादा तीखा और मसालेदार खाना खाते हैं तो इससे आपकी सेहत पर गलत असर पड़ सकता है और सेहत को नुकसान भी हो सकता है।


तपाईको प्रतिक्रिया
ताजा अपडेटहरु